रेलवे निरीक्षक पर लगा टिकट दलाल को छोड़ने का आरोप, होगी जांच…

Chhattisgarh Train Cancelled : सर्दियों में होने वाले कोहरे की वजह कोहरे की वजह से प्रभावित रहेगी ये एक्सप्रेस
जांजगीर। दक्षिण पूर्व रेलवे के विजिलेंस विभाग में कार्यरत कर्मियों के खिलाफ प्रधानमंत्री कार्यालय से लेकर रेलवे बोर्ड तक भ्रष्टाचार की शिकायत की गई है। चक्रधरपुर के मानवाधिकार कार्यकर्ता बैरम खान के द्वारा यह शिकायत दर्ज की है। प्रधानमंत्री कार्यालय से जरूरी दिशा-निर्देश मिलने के बाद रेलवे बोर्ड के द्वारा दक्षिण पूर्व रेलवे के भ्रष्ट कर्मियों की जांच शुरू कर दी गई है। दिल्ली के बड़े विजिलेंस अधिकारी के द्वारा इसकी जांच की जा रही है।

बीते 13 मार्च को चक्रधरपुर रेलवे स्टेशन के रिजर्वेशन काउंटर में विजिलेंस विभाग के निरीक्षक दिवाकर कुमार और सुमन बनर्जी के द्वारा छापामारी की गई थी। इसमें काउंटर से टिकट दलाल द्वारा बनाया गया तीन टिकट विजिलेंस निरीक्षक ने पकड़कर जब्त कर लिया था।

आरोप है कि इसके बाद दलाल के तीन टिकट को गुपचुप तरीके से सेटिंग कर विजिलेंस निरीक्षक दिवाकर और सुमन ने काउंटर के पीछे जाकर वापस कर दिया था। इस घटना को स्टेशन में मौजूद कई यात्रियों ने भी देखा था। वहीं, काउंटर के क्लर्क के खिलाफ मात्र 32 रुपये अधिक नकदी मिलने का केस बनाकर विजिलेंस के दोनों निरीक्षक ने मामले को रफा-दफा कर दिया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here