भूपेश ने रायगढ़ में मांगा विष्णु देव साय के संसदीय काम का हिसाब तो भाजपा ने कहा ये लीजिए और अपनी सूची दीजिए…

रायपुर। पिछले दिनों भूपेश बघेल ने मुख्यमंत्री विष्णु देव साय के पूर्व संसदीय क्षेत्र में जाकर कहा कि सांसद रहते हुए साय ने एक भी विकास कार्य नहीं किए, यदि किए हो तो बताए। इस पर रायगढ़ भाजपा ने भूपेश बघेल को करारा जवाब देते हुए विष्णु देव साय के सांसद रहते कराए गए विकास कार्यों की लंबी चौड़ी फेहरिस्त जारी कर दी और अब पलटवार करते हुए कहा है कि अब भूपेश बघेल ने मुख्यमंत्री रहते हुए अपने गृह जिले में कौन से विकास कार्य किए है इसकी सूची सार्वजनिक करें।
यहां भाजपा के वरिष्ठ नेता मुकेश जैन ने कहा है कि चुनाव में जब आत्मविश्वास कम होता है तो आमतौर पर नेतागण झूठ व भ्रामक तथ्यों के आधार पर आरोप-प्रत्यारोप की राजनीति करने पर उतारू हो जाते हैं। रायगढ़ लोकसभा क्षेत्र में कांग्रेस इसी तरह की राजनीति कर रही है। स्थानीय नेता यदि झूठ का सहारा ले रहे हों तो इसे जानकारी का आभाव माना जा सकता है लेकिन जब पूर्व मुख्यमंत्री भूपेश बघेल मंच से यह कहते हैं कि विष्णुदेव साय जी ने सांसद रहते हुये कुछ नहीं किया तो इसे गलत तथ्यों के सहारे सोची-समझी रणनीति के तहत आम जनता को गुमराह करने की कोशिश के अलावा क्या कहा जा सकता है ?
वस्तुतः विष्णुदेव साय जी के संसदीय कार्यकाल में इस क्षेत्र ने जो उपलब्द्धियाँ हासिल की हैं वह अचंभित कर देने वाली है। विष्णुदेव जी के प्रयासों से एन.एच. 43 हेतु 1400 करोड़ रूपये की स्वीकृति मिली,जिसमें पत्थलगांव से झारखंड बॉर्डर तक 650 करोड़ लागत की सड़क शामिल है। कुनकुरी से झारखंड बॉर्डर तक का कार्य पूर्ण हो चुका है। प्रधानमंत्री ग्राम सड़क के अंतर्गत इस लोकसभा क्षेत्र की 1912.25 कि.मी. सड़कों हेतु 66586 लाख की स्वीकृति, जशपुर में बहुप्रतीक्षित हॉकी एस्ट्रोटर्फ हेतु 544 लाख रुपये, रायगढ़ के ग्राम परसदा में 65 करोड़ की लागत से 100 बिस्तरों का राज्य बीमा कर्मचारी निगम अस्पताल का निर्माण, कुनकुरी में 3 करोड़ का ग्रुप वाटर सप्लाई योजना, प्रधानमंत्री आवास योजनान्तर्गत 61784 हितग्राहियों को आवास, कोतरा रोड में बहुप्रतीक्षित रेलवे ओवर ब्रिज, 1647 करोड़ रूपये की लागत से खरसिया-धरमजयगढ़ रेल कॉरिडोर की पूर्णता, लगभग 1700 करोड़ की उरगा-धरमजयगढ़ रेल कॉरिडोर, 1213 करोड़ की चाम्पा-झारसुगड़ा तीसरी रेललाइन, 1979 करोड़ की लागत से चौथी लाइन का निर्माण, रायगढ़ व जशपुर में केंद्रीय विद्यालय की स्थापना, सैकड़ों बी एस एन एल मोबाइल टावर आदि विष्णुदेव साय कार्यकाल की चमकीली उपलब्धियों में शामिल हैं। इसके अतिरिक्त सांसद स्थानीय क्षेत्र विकास योजना, सांसद निधी व केंद्र सरकार की विभन्न योजनाओं के तहत सैकड़ों करोड़ रुपये की लागत से किये गए कार्यों का उल्लेख विस्तार से दो पुस्तिकाओं में दर्ज है। रायगढ़ रेल्वे स्टेशन का अप-ग्रेडेशन तथा 22885/86 अंत्योदय एक्सप्रेस, 01661/62 जयपुर-शालीमार स्पेशल,02291/92 जबलपुर-सन्तरागाछी स्पेशल और 08061/62 हबीबगंज-पूरी स्पेशल ट्रैन का रायगढ़ में स्टॉपेज विष्णुदेव जी ने अपने समय में करवाया था। पूर्व सांसद गोमती साय जी ने इसी तरह 17007/08 सिकंदराबाद-दरभंगा, 20917/18 इंदौर-पुरी, 22845/46 पुणे हटिया, 22909/10 पुरी-वलसाड, 17005/06 हैदराबाद-रॉक्सओल, 13425/26 सूरत-मल्दा और 22893/94 हावड़ा- शिरडी साईं नगर ट्रेन का स्टॉपेज रायगढ़ में करवाया है। साथ ही सारंगढ़ -रायगढ़ क्षेत्र में 580 करोड़ की लागत से प्रधानमंत्री सड़क व 16 करोड़ की लागत रायगढ़ रेल्वे स्टेशन का कायाकल्प प्रगति पर है।
इसके अतिरिक्त विष्णुदेव साय जी ने नवाचार के रूप में डी एम एफ फण्ड से जशपुर जिले में महिलाओं को सशक्त व आत्मनिर्भर बनाने हेतु ‘बेटी जिंदाबाद बेकरी’ की शुरुआत की थी। इस योजना को 2017 में अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस पर राष्ट्रपति द्वारा ‘अन्तर्राष्ट्रीय नारी शक्ति’ पुरुष्कार से सम्मानित किया गया। संकल्प शिक्षण संस्थान के माध्यम से छात्रों को उच्च शिक्षा हेतु तैयार करने में 2017-18 में प्रदेश में अव्वल दर्जा हासिल किया। विकासखण्ड दुलदुला के ग्राम पंचायत खटंगा में काजू प्रोसेसिंग यूनिट की स्थापना की। एक सीजन में 1265 किसानों को इससे 17.56 लाख रुपयों का अतिरिक्त लाभ हुआ। इसी तरह सन्ना क्षेत्र में मिर्च प्रोसेसिंग यूनिट की स्थापना की गयी।
विष्णुदेव साय की जागरूकता से प्रधानमंत्री सहज बिजली हर घर योजना/सौभाग्य योजना अंतर्गत 55196 हितग्राहियों को बिजली मिली। इसी तरह प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना में 18040 प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना में 121828, प्रधानमंत्री जन-धन योजना में 721687, प्रधानमंत्री उज्ज्वला गैस योजना में 109136, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना में 46830 , कौशल विकास योजना में 22096, प्रशिक्षण से रोजगार में 17083, प्रधानमंत्री मुद्रा योजना में 44158 खुले में शौच मुक्त ग्राम जशपुर जिले में 757 ग्राम, तीर्थयात्रा योजना में 6428 , किसानों को सिंचाई पंप में छूट के अंतर्गत जशपुर में 14781, संजीवनी एक्सप्रेस 108 के अंतर्गत लाभान्वित 9023 तथा महतारी एक्सप्रेस से 32260 हितग्राहियों तक लाभ पहुंचाया गया है। सन 2000 में विरासत में एक खस्ताहाल व बीमार छत्तीसगढ़ दिग्विजय सिंह सरकार ने हमें सौंपा था। न सड़कें बची थी न ही आधे समय बिजली मिल रही थी।
कांग्रेस के तत्कालीन मुख्यमंत्री अजीत जोगी ने प्रथम तीन वर्षों में इसे भय व भ्रष्टाचार का गढ़ बना दिया था। भाजपा की डॉ. रमन सिंह सरकार के 15 वर्षों के सुशासन ने नवोदित छत्तीसगढ़ राज्य को विकास के मामले में देश के अग्रणी राज्य के साथ खड़ा किया। अब विष्णुदेव साय ने तीन महीनों के अल्प कार्यकाल में सांय-सांय फैसले लेकर मोदी की गारंटी को पूरा किया है। जहाँ तक रायगढ़ लोकसभा क्षेत्र का प्रश्न है तो यह प्रदेश का सम्भवतः इकलौता लोकसभा क्षेत्र है जिसने स्व.नरहरि साय, स्व. कुमार दिलीप सिंह जूदेव और विष्णुदेव साय के रूप में तीन केंद्रीय मंत्री देश को दिये हैं। यह समस्त क्षेत्रवासियों के लिये गर्व का विषय है कि इस वनांचल के किसानपुत्र विष्णुदेव प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं। इस गौरवशाली बेटे की छवि को धूमिल करने हेतु भूपेश बघेल जी सहित पूरी कांग्रेस पार्टी जो झूठा प्रचार कर रही है, उसका मुंहतोड़ जवाब क्षेत्र की जनता अपने मत के माध्यम आगामी 7 मई को देगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here