PSC घोटाले मामले में एफआईआर , बढ़ेगी पूर्व चेयरमैन की मुश्किलें…

रायपुर : छत्तीसगढ राज्य में कांग्रेस शासनकाल के सबसे चर्चित PSC घोटाले में पीएससी के पूर्व चेयरमैन टामन सोनवानी की मुश्किलें बढ़ सकती हैं।छत्तीसगढ़ में पीएससी की परीक्षा में हुई भारी गड़बड़ी और भ्रष्टाचार के आरोप में तत्कालिन अध्यक्ष टामन सिंह सोनवानी, सचिव, परिक्षा नियंत्रक सहित अन्य अधिकारियों और नेताओं के खिलाफ बालोद जिले के अरजुंदा थाने में FIR दर्ज हुई है। अभ्यर्थी की शिकायत पर FIR धारा 120 बी, आइपीसी 420,12 पीआरई के तहत मामला दर्ज हुआ है।
सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक पुलिस जल्द ही सोनवानी समेत अन्य आरोपियों को गिरफ्तार कर सकती है।टामन के रिश्तेदारों, कांग्रेस नेताओं के , प्रभावशील अधिकारियों के परिचितों का चयन पीएससी में करने का आरोप है अभ्यर्थी का आरोप है कि उसने 2021 में पीएससी की परीक्षा दी थी और प्रीलिम्स, मेंस पास करने पश्चात इंटरव्यू तक पहुंचा, इंटरव्यू भी अच्छा रहा और मैंने सभी सवालों के जवाब भी दिए इसके बाद भी उसका चयन नही हुआ जबकि कुछ ही मिनटों में बाहर आने वाले लोगों का चयन हो गया।
अभ्यर्थी का यह भी कहना है कि तत्कालिन पीएससी चेयरमैन टामन सोनवानी के पुत्र, पुत्री, बहू समेत नाते-रिश्तेदारों , कांग्रेस नेताओं , प्रभावशील अधिकारियों के परिचितों का चयन पीएससी परीक्षा में किया गया है। ज्ञात हो कि इससे पूर्व ACB ने भी सोनवानी समेत अन्य अधिकारियों के खिलाफ अपराध दर्ज़ कर चुकी है। वहीं पीएससी परीक्षा में हुए भ्रष्टाचार पर भी विष्णुदेव साय सरकार ने CBI जांच का आदेश दे दिया है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here