कलेक्टर ने ली समय सीमा की बैठक , अतिक्रमण से जुड़ी शिकायतों का निराकरण जल्द करें…

रायपुर : कलेक्टर रेडक्रास सभाकक्ष में आयोजित समय-सीमा की बैठक में कलेक्टर डॉ गौरव सिंह ने ज़िले के समस्त विभागों के अधिकारियों को लंबित कार्यों के यथासंभव निराकरण करने निर्देशित किया। उन्होंने ज़िले के नगर निगम तथा अन्य नगरीय निकायों में अतिक्रमण से संबंधित प्राप्त शिकायतों को पुलिस, राजस्व और नगर निगम से समन्वय स्थापित कर तत्काल निराकरण करने निर्देश दिया।
अतिक्रमण हटाने की कार्रवाई के पूर्व पुलिस को अवश्य सूचना प्रदान करे। साथ ही माघ पुन्नी पर होने वाले राजिम मेले में स्टॉल लगाने की तैयारियों पर जानकारी ली एवं समस्त विभागों का व्यवस्थित स्टाल लगाने कहा। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग से कहा कि विभागीय स्टॉल के साथ स्वास्थ्य परीक्षण की भी व्यवस्था की जाए।
एसपी संतोष सिंह ने कहा कि जिले में कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस और अन्य विभाग समन्वय बनाकर कार्य करेंगे। यदि किसी विभाग के अधिकारी-कर्मचारी को शासकीय कार्य के दौरान लॉ एंड आर्डर से जुड़ी समस्या आए तो पुलिस अधिकारियों को तुरंत सूचना प्रदान करें उन्हें तत्काल सहायता दी जाएगी। कार्यक्षेत्र में व्यव्धान उत्पन्न करने वाले असामाजिक तत्वों पर पुलिस करेगी तत्काल कार्रवाई करेगी।
कलेक्टर ने कहा कि ज़िले में कार्यरत सभी विभाग आपस में समन्वय स्थापित कर कार्य करें। साथ ही कहा कि श्रम विभाग को स्वास्थ्य विभाग एवं महिला बाल विकास विभाग से समन्वय करते हुये अधिक से अधिक श्रमिकों का पंजीयन करने एवं उन्हें महतारी जतन योजना एवं छात्रवृत्ति सहायता योजना सहित अन्य योजनाओं का लाभ दी जाए। उल्लेखनीय है कि महतारी जतन योजना अंतर्गत पंजीकृत महिला श्रमिक को प्रथम दो प्रसव पर बच्चे के जन्म के तीसरे महीने तक आवेदन करने पर एक मुफ्त 20 हज़ार रूपये की सहायता राशि प्रदान की जाती है।
बैठक में कलेक्टर ने धान ख़रीदी केंद्रों से उठाव कार्य को तेज़ी से पूर्ण करने निर्देश दिया। अधिकारियों ने बताया कि ज़िले में 100 प्रतिशत डीओ जारी कर दिया गया है और 92 प्रतिशत उठाव कार्य भी पूर्ण कर लिया गया है। उन्होंने महतारी वंदन योजना अंतर्गत प्राप्त आवेदनों का एंट्री जल्द करने निर्देश दिया। महिला एवं बाल विकास अधिकारी ने बैठक में जानकारी देते हुए बताया कि अब तक ज़िले में कुल 5 लाख 28 हज़ार 527 आवेदन प्राप्त हुए हैं। जिनमे से लगभग पाँच लाख से अधिक आवेदनों की एंट्री कर ली गई है और शेष आवेदनों की भी यथशीघ्र एंट्री कर ली जायेगी। बैठक में जिला पंचायत सीईओ और अधिकारीगण भी उपस्थित रहे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here