Cricket News: क्रिकेट इतिहास के 6 सबसे छोटे टेस्ट मैच, लिस्ट में भारत भी शामिल…

Cricket News: टेस्ट क्रिकेट सबसे लंबा और सबसे कठिन फॉर्मेट है। यह 145 साल से चला आ रहा है। पहले टेस्ट मैच 6 दिन तक खेला जाता था जिसमें एक दिन रेस्ट डे होता था। लेकिन बाद में नियम बदले गए और इसे 5 दिन का कर दिया गया। आज कल बहुत कम ऐसा होता है जब टेस्ट मैच पूरे 5 दिन तक जाता हो। कई बार ऐसा भी होता है कि 5 दिन बाद भी मैच का रिजल्ट नहीं निकलता। क्या आप जानते हैं कई ऐसे टेस्ट मैच भी हुई है जो एक दिन से ज्यादा नहीं चले। आइए जानते हैं ऐसे ही कुछ मैचों के बारे में –
इंग्लैंड बनाम ऑस्ट्रेलिया, नॉटिंघम, 1926
England v Australia, 5th Test, The Oval, August 14-18, 1926 | ESPNcricinfo.com
1926 में खेले गए इस मैच में इस मैच में इंग्लैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया था। लेकिन तभी बारिश आ गई और मैच को रोकना पड़ा। इस मैच में मात्र 17.1 ओवर फेंके गए। इस दौरान इंग्लैंड ने बिना विकेट खोये 32 रन बनाए थे। इसके बाद लगातार बारिश होती रही और मैच रद्द हो गया।
पाकिस्तान बनाम श्रीलंका, गुजरांवाला, 1991
पाकिस्तान ने इस टेस्ट मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए 36 ओवर में 2 विकेट खोकर 109 रन बना लिए थे तभी बारिश ने मैच में खलल डाल दी। उस समय कोई सुपर सॉपर या मैदान से पानी हटाने की रोलिंग मशीन नहीं होने के कारण मैच शुरू नहीं हो सका था। बारिश और गीली आउटफील्ड के कारण साढ़े चार दिन का खेल बर्बाद हो गया था। यह अब तक का पांचवां सबसे छोटा टेस्ट मैच है।
श्रीलंका बनाम भारत, कैंडी, 1993
इस टेस्ट में भारत के लिए कपिल देव ने एक महत्वपूर्ण रिकॉर्ड अपने नाम किया था। उन्होंने अपना 125वां टेस्ट खेलते हुए सुनील गावस्कर की बराबरी कर ली थी। इस मैच में भारत ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया था। पहले दिन बारिश के कारण खेल शुरू नहीं हो सका था दूसरे दिन बल्लेबाजी करने उतरी श्रीलंका की टीम ने 12 ओवर में 24 रन के स्कोर पर 3 विकेट खो दिए थे। तभी बारिश आ गयी और मैच कभी खेला ही नहीं जा सका और बाद में रद्द घोषित कर दिया गया।
वहीं भारत के दिग्गज ऑलराउंडर कपिल देव ने भारत के लिए 131 टेस्ट मैच खेले है। इन टेस्ट मैचों में उन्होंने 31.05 की औसत और 94.76 की स्ट्राइक रेट की मदद से 5248 रन बनाये है। वहीं उन्होंने गेंदबाजी करते हुए 29.65 की औसत और 63.92 के स्ट्राइक रेट की मदद से 434 बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई है।
वेस्टइंडीज बनाम इंग्लैंड, जमैका, 1998
इस बार बारिश बिल्कुल भी नहीं हुई है। पिच को छोड़कर टेस्ट मैच क्रिकेट के लिए परिस्थितियां बिल्कुल सही थीं। पिच खतरनाक होने की वजह से 10.1 ओवर के बाद ही मैच को समाप्त घोषित कर दिया गया था। वॉल्श और एम्ब्रोस की गेंदबाजी के साथ, यह कह सकते हैं कि यह पिच और भी खतरनाक हो गयी थी। अंपायर स्टीव बकनर और एस वेंकटराघवन ने पहले दिन 55 मिनट के खेल के बाद मैच रद्द करने का फैसला कर लिया था। टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में यह पहला मौका था जब पिच की स्थिति के कारण मैच को रद्द कर दिया गया था। वहीं जब मैच रद्द किया गया था तब इंग्लैंड का स्कोर 3 विकेट खोकर 17 रन था।
वेस्टइंडीज बनाम इंग्लैंड, एंटीगुआ, 2009
इस मैच में वेस्टइंडीज ने टॉस जीतकर गेंदबाजी करने का फैसला किया था। वेस्टइंडीज और इंग्लैंड के बीच हुए टेस्ट मैच में सिर्फ 10 गेंदे ही डाली जा सकी थी। खराब आउटफील्ड के कारण यह टेस्ट मैच रद्द कर दिया गया और कई लोग इससे बहुत नाराज हो गए थे। आउटफील्ड बहुत रेतीली थी, एक तरह से गेंदबाजों को रन-अप के दौरान बहुत दिक्कत हो रही थी। वहीं जब मैच रद्द हुआ था तब एलेस्टेयर कुक 1*(2) और एंड्रयू स्ट्रॉस 6*(8) रन बनाकर क्रीज पर मौजूद थे।
भारत बनाम वेस्टइंडीज, पोर्ट ऑफ़ स्पेन, 2016
भारत बनाम वेस्टइंडीज के बीच 4 मैचो की सीरीज का चौथा और अंतिम टेस्ट मैच 18 अगस्त 2016 को पोर्ट ऑफ़ स्पेन खेला गया. मैच में वेस्टइंडीज के कप्तान जैसन होल्डर ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी का फैसला लिया. वेस्टइंडीज के सलामी बल्लेबाज़ क्रैग ब्रेथवेट और लीओन जॉनसन ने पारी की शुरुआत किया, वेस्टइंडीज के सलामी बल्लेबाजों के शरुआती 11 ओवरो में 31 रन जोड़े, जिसके बाद भारत के तेज गेंदबाज़ इशांत शर्मा की गेंद पर जॉनसन आउट हुए. जॉनसन की विकेट गिरने के बाद वेस्टइंडीज के डैरेन ब्रावो आये और केवल 10 रन बनाकर आश्विन की गेंद पर आउट हुए।
मैच में एक समय वेस्टइंडीज का स्कोर 22 ओवरों में 2 विकेट के नुकसान पर 62 रन था, तभी बारिस के कारण मैच रोका गया, और उसके बाद मैच दोबारा शुरू नहीं पाया. टेस्ट मैच के अंतिम 3 दिन मौसम साफ़ रहा लेकिन स्टेडियम की ख़राब स्तिथि के कारण मैच दोबारा शुरू नहीं हो पाया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here