उत्तराखंड के चमोली में बड़ा हादसा: करंट लगने से अब तक 15 लोगों की मौत, कई घायल

Uttarakhand : बीते कुछ दिनों में चमोली (Chamoli) में बाढ़ और बारिश का कहर देखा जा रहा है. वहीं बुधवार को जिले में अलकनंदा नदी (Alaknanda River) के तट पर एक बाड़ हादसा हुआ है. जहां ट्रांसफॉर्मर फटने के कारण करंट लगने से 15 लोगों की मौत हो गई है. हादसे में लोगों की मौत के संबंध में जानकारी चमोली एसपी (Chamoli SP) ने दी.

चमोली में अलकनंदा नदी के किनारे ट्रांसफॉर्मर ब्लास्ट हुआ था, कई घायल | Uttarakhand Alaknanda River Tragedy Video Udpate | Chamoli News - Pushkar Singh Dhami - Dainik Bhaskar

 

भारी बारिश के बाद उत्तराखंड के चमोली, हरिद्वार, रुद्रप्रयाग समेत कई जिलों में बाढ़ के हालात बने हुए हैं. इसी बीच चमोली में बुधवार को अलकनंदा नदी के किनारे एक ट्रांसफॉर्मर फटने के कारण करीब दस लोगों की मौत हो गई है. चमोली एसपी परमेंद्र दोवल ने इस घटना के संबंध में जानकारी दी है. उन्होंने बताया, “चमोली जिले में अलकनंदा नदी के किनारे ट्रांसफॉर्मर फटने से दस लोगों की मौत हो गई है. जबकि कई लोग इस हादसे में घायल हैं.”
घायलों का इलाज जारी

चमोली में बड़ा हादसा, करंट लगने से 15 लोगों की मौत, दारोगा समेत कई झुलसे |

एसपी द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार, “इस हादसे में घायल सभी लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. अभी इन सभी का इलाज जारी है.” वहीं उत्तराखंड के डीजीपी अशोक कुमार द्वारा दी गई जानकारी के अनुसार हादसे में चौकी प्रभारी की भी मौत हो गई है. चौकी इंचार्ज बदरीनाथ हाइवे पर तैनात थे. मौत के बाद शव को पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया गया है. सूत्रों की मानें तो चमोली में नमामि गंगे परियोजना के तहत एक निर्माणाधीन प्रोजेक्ट पर काम चल रहा था, इसी दौरान ये हादसा हुआ है.
बता दें कि अलकनंदा नदी हिमालय से निकल कर उत्तराखंड में भागीरथी नदी से आकर मिलती है. अलकनंदा और भागीरथी का संगम देवप्रयाग में है. संगम के बाद इसे गंगा नदी के नाम से जाना जाता है. बीते दिनों अलकनंदा नदी में जलस्तर बढ़ने के बाद श्रीनगर डैम से पानी छोड़ा गया था. इस वजह से जिलाधिकारी ने देवप्रयाग, ऋषिकेश और हरिद्वार में अलर्ट जारी किया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here