सीएम हाउस में धूम-धाम से मनाया गया हरेली त्यौहार, मुख्यमंत्री ने कृषि उपकरणों की पूजा कर प्रदेश वासियों के खुशहाली की कामना की…

रायपुर, 17 जुलाई 2023 : मुख्यमंत्री निवास में छत्तीसगढ़ की संस्कृति और पारम्परिक रीति – रिवाजों के साथ धूमधाम से हरेली का त्यौहार मनाया गया। इस अवसर पर सीएम भूपेश बघेल ने अपने परिवार के साथ हल और कृषि उपकरणों की पूजा कर प्रदेश और प्रदेश वासियों के खुशहाली की कामना की। साथ ही गेड़ी और झूले का आनंद लिया। इसी कड़ी में यादव समाज के लोगों ने राउत नाचा और गेड़ी नृत्य कर बघेल का अभिवादन किया। इस दौरान बघेल ने लोगों को सम्बोधित करते हुए प्रदेश वासियों को हरेली और सावन सोमवार की बधाई दी। साथ ही छत्तीसगढ़ महतारी की प्रतिमा वाले मामले को लेकर भाजपा पर जमकर निशाना साधा।
सीएम भूपेश बघेल ने छत्तीसगढ़ महतारी की प्रतिमा पर दीप प्रज्ज्वलित किया। साथ ही राजकीय गीत अरपा पैरी के धार गाकर हरेली कार्यक्रम का शुभारम्भ किया। इस अवसर पर सीएम बघेल ने प्रदेश वासियों को हरेली त्यौहार और सावन सोमवार की बधाई देते हुए उन्हें सम्बोधित किया। उन्होंने कहा कि हरेली केवल गेड़ी का ही त्यौहार नहीं है, बल्कि किसानों के लिए समृद्धि और खुशहाली का त्यौहार है। कांग्रेस की सरकार आने के बाद प्रदेश में किसान के साथ – साथ फसलों का उत्पादन भी बढ़ा है, साथ ही प्रति एकड़ 20 क्विंटल धान खरीदी की घोषणा के बाद किसान काफी उत्साहित हैं। प्रदेश में दूध और महुआ का उत्पादन भी लगातार बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस सरकार द्वारा इतिहास के धरोहर को लगातार विकसित करने का काम किया जा रहा है। इसी तर्ज पर कौसल्या माता मंदिर का निर्माण कराया गया साथ ही छत्तीसगढ़ में जहां – जहां भगवन राम के चरण पड़े है वहां राम गमन पथ तैयार किया जा रहा है। बस्तर में पहले बम और बारूद कि आवाज सुनाई देती थी, लेकिन अब वहां के पारम्परिक आदिवासी गाने – बाजे की आवाजे आने लगी है। उन्होंने भाजपा की केंद्र सरकार और रमन सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि प्रदेश में 15 साल के कार्यकाल में किसान कर्ज में दबकर आत्महत्या कर रहे थे। वही उन्होंने पिछले हरेली में अमित शाह के रायपुर आगमन और उनके द्वारा पूजा कर गाय को लोंदी खिलाने के मामले पर कहा कि प्रदेश में 15 साल राज करने के बाद एक साल भी उन्हें छत्तीसगढ़ के त्यौहार और संस्कृति कि याद नहीं आई और कांग्रेस कि सरकार आने पर अचानक त्योहारों और संस्कृति की याद आ गई। उन्होंने छत्तीसगढ़ महतारी की प्रतिमा और राजकीय गान पर भाजपा के खिलाफ तंज कसते हुए कहा कि मोदी सरकार और रमन सरकार को कभी छत्तीसगढ़ महतारी की प्रतिमा का अनावरण करने और राजकीय गान के बारे सोंचने का समय तक नहीं मिला और अब कांग्रेस द्वारा इन सब को सहेजने के बाद हर जगह भाजपा उनकी कॉपी कर रही है।
हरेली के अवसर पर सीएम हाउस में छत्तीसगढ़ की संस्कृति और पारम्परिक रीति – रिवाजों से जुड़े विभिन्न उपकरणों और हस्तशिल्पों का स्टॉल लगाया गया, जिसका सीएम बघेल ने अवलोकन किया। इस दौरान 15 अगस्त से पशुओं की सुरक्षा और उपचार के लिए शुरू किये जा रहे एम्बुलेंस सेवा का भी स्टॉल लगाया गया, जहां इस एम्बुलेंस सेवा से जुड़े तमाम मुद्दों के बारे में जानकारी दी गई। इस अवसर पर सीएम हाउस में छत्तीसगढ़ी पकवानों का भी स्टॉल लगाया गया, जहां लोगों ने बड़ी संख्या में पहुंचकर व्यंजकों का जायका लिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here