शहर में डायरिया का खतरा बढ़ा, 65 वर्षीय महिला की मौत

बिलासपुर : छत्तीसगढ़ के बिलासपुर में सरकंडा क्षेत्र के चाटीडीह में डायरिया से 65 वर्षीय की महिला मौत हो गई है. जिससे स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है. इस मौते के बाद 48 डायरिया पीड़ितों को उपचार के लिए सिम्स में भर्ती में भर्ती किया गया है. बता दें कि सरकंडा क्षेत्र के चाटीडीह मोहल्ले में डायरिया फैला हुआ है. यहां लोग उल्टी, दस्त और पेट दर्द से ग्रसित हैं. आनन-फानन में स्वास्थ्य विभाग ने सर्वे कराकर बीमार लोगों अस्पताल में भर्ती कराया है.
बताया जा रहा है कि मोहल्ले में उल्टी दस्त की शिकायत के बाद 40 से ज्यादा बीमार लोगों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है. इधर स्वास्थ्य विभाग की टीम ने मौके पर पहुंच 52 मकानों का सर्वे किया और पानी के सैंपल लेकर जांच की है.
बता दें, कि शुक्रवार की शाम चांटीडीह इलाके में लोग उल्टी दस्त से बीमार हो गए, उनकी हालत बिगड़ने पर हॉस्पिटल ले जाया गया, वहीं इसकी जानकारी वार्ड के लोगों ने पार्षद सहित स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम के अधिकारियों को दी गई.
इलाज के दौरान चांटीडीह निवासी 65 वर्षीय कमला मिश्रा की सिम्स में मौत हो गई. छह मरीजों की हालत गंभीर बताई गई, जिन्हें प्राइवेट अस्पताल में शिफ्ट किया गया है. डायरिया की वजह दूषित पानी को बताया जा रहा है. स्वास्थ्य अमला अलर्ट है, और इलाके में केम्प कर लोगों की जांच कर रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here