छत्तीसगढ़ योग शिक्षक संघ दो सूत्रीय मांगों को लेकर भूपेश सरकार के खिलाफ करेगी प्रदर्शन…

रायपुर : छत्तीसगढ़ योग शिक्षक संघ ने भी अब भूपेश सरकार के खिलाफ आंदोलन करने की रणनीति बना ली है। इसी कड़ी में संघ के लोगों ने 18 से 20 जून तक अपनी दो सूत्रीय मांगों को लेकर शासन के खिलाफ प्रदर्शन करने का फैसला लिया है। छत्तीसगढ़ योग शिक्षक संघ का कहना है कि प्रदेश के विश्वविद्यालयों में पीजी से लेकर पीएचडी लेवल तक योग का कोर्स कराया जा रहा है, लेकिन पाठ्यक्रम पूरा करने के बाद भी सभी 20 हजार छात्र बेरोजगार बैठे है। उनका कहना है कि प्रदेश के सभी स्कूलों में व्यायाम शिक्षकों कि भर्ती कराई जा रही है, लेकिन योग शिक्षकों की भर्ती के बारे में नहीं ध्यान दिया जा रहा है।
संघ के महासचिव खोमेश साहू ने बताया कि परीक्षा के समय कई डरे हुए छात्र आत्महत्या करके अपनी जान गँवा देते है, जिस डर को केवल योग से ही दूर किया जा सकता है। प्रदेश में सैकड़ों आत्मानंद स्कूल खोला गया है और जिनके नाम पर स्कूल खोला गया है, वो खुद ही एक योगी थे, ऐसे में इन स्कूलों में योग शिक्षकों कि भर्ती नहीं कि जा रही है। संघ के लोगों की मांग है कि राज्य के समस्त आत्मानंद स्कूलों सहित हाई और हायर सेकेंडरी स्कूलों में केंद्रीय विद्यालय और नवोदय विद्यालय की तर्ज पर योग शिक्षक की नियुक्ति की जाए। इसी कड़ी में संघ के लोगों ने 18 से 20 जून तक आंदोलन कर शासन तक अपनी मांगे पहुँचाने की बात कही है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here