मुख्यमंत्री की घोषणा के बाद , बेरोजगारी भत्ता के लिए पंजीयन कराने रोजगार कार्यालयों में लगी भीड़…

बिलासपुर : राज्य सरकार द्वारा बेरोजगारी भत्ता देने की घोषणा का असर बिलासपुर में दिखने लगा है। रोजगार पंजीयन कार्यालय में बेरोजगारों की भीड़ लग रही है। पंजीयन कराने होड़ मची हुई है। बेरोजगार युवा बड़ी संख्या में पंजीयन कराने पहुंच रहे हैं। हालात ऐसे हैं कि, रोजगार पंजीयन कराने वालों की संख्या आम दिनों की तुलना में दोगुनी से अधिक हो गई है।
आपको बता दे कि बीते दिनों 26 जनवरी को राज्य सरकार ने बड़ी घोषणा करते हुए अगले वित्तीय वर्ष से प्रदेश के बेरोजगारों को बेरोजगारी भत्ता देने का ऐलान किया है। हालांकि, फिलहाल यह स्पष्ट नहीं है की भत्ते के तौर पर बेरोजगार युवाओं को कितना पैसा दिया जाएगा। इसके लिए शासन के विस्तृत निर्देश का इंतजार है। लेकिन इससे पहले ही बेरोजगारी भत्ता पाने बेरोजगार युवाओं में होड़ लग गई है।
बिलासपुर में बेरोजगार युवा शासन से बेरोजगारी भत्ता पाने के लिए बड़ी संख्या में रोजगार पंजीयन कार्यालय पहुंच रहे हैं। यहां बेरोजगार युवाओं की भीड़ लग रही है। स्थिति ये है कि, आम दिनों की तुलना में रोजगार पंजीयन की संख्या दोगुनी से अधिक हो गई है। पहले जहां रोजाना करीब 40 से 50 पंजीयन किए जा रहे थे, वो संख्या सरकार के घोषणा के साथ बढ़कर अब रोजाना 130 से 150 पहुंच गई है।
बेरोजगार युवाओं को लग रहा है कि, जब सरकार बेरोजगारी भत्ता दे तो उसका लाभ उन्हें भी मिले। हालांकि, इसके साथ ही बेरोजगार युवाओं का यह भी मानना है कि, बेरोजगारी भत्ता कुछ समय के लिए जरूर बेरोजगार युवाओं की मदद कर सकता है, लेकिन रोजगार के साथ ही उनके रोजगार की समस्या का समाधान हो सकता है।
इधर बेरोजगार युवाओं के भीड़ के बीच जिला रोजगार पंजीयन कार्यालय के अधिकारी भी मान रहे हैं कि, ये स्थिति सरकार के घोषणा के कारण बन रही है। बड़ी संख्या में बेरोजगार युवा पंजीयन करा रहे हैं। अधिकारियों की माने तो 26 जनवरी के बाद पंजीयन कराने वालों की संख्या में तेजी से इजाफा हुआ है। इनकी संख्या दोगुनी से अधिक हो गई है। रोजाना 130 से 150 बेरोजगार युवा रोजगार कार्यालय में पंजीयन करा रहे हैं। गौरतलब है कि, जिले में फिलहाल करीब एक लाख 16 हजार के करीब पंजीकृत बेरोजगार हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here